हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री औमप्रकाश धनखड़ की पहल पर "एक पेड़ शहीदों के नाम" कार्यक्रम, बांटें 68,000 पौधें...

कृषि मंत्री ने किया पौधा पोषण का आहवान । कृषि मंत्री धनखड़ ने ग्रामीणों को घर-घर जाकर पौधे देते हुए आहवान किया कि यह शहीदों की याद को चिर स्थायी बनाने के लिए है। इनका पोषण सही तरीके से करें ताकि एक पेड़ शहीदों के नाम कार्यक्रम में रोपित हुए पौधे वीरों की शहादत की महक कण-कण तक पंहुच सके।

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री औमप्रकाश धनखड़ की पहल पर

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री औमप्रकाश धनखड़ की पहल पर एक पेड़ शहीदों के नाम कार्यक्रम के तहत रविवार को बादली विधानसभा क्षेत्र में 68,000 पौधे बांटे गए। गांव-गांव भारत माता और शहीदों के जयकारों के साथ बादली हलके के सभी 94 गांवों में एक पेड़ शहीदों के नाम कार्यक्रम के तहत पौधे वितरित किए गए। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री औम प्रकाश ने भी गांव ईस्माइलपुर में भी स्वयं घर-घर जाकर पौधे वितरित किए।

मंत्री की अनूठी पहल को हर आयु वर्ग के पुरूष, महिलाओं, सामाजिक, धार्मिक संगठनों ने प्रशंसनीय बताया। इतना ही नहीं महिलाओं ने मंगलगीत गाकर अनुच्छेद 370 को हटाने के निर्णय का स्वागत और शहीदों के नाम पर पौधरोपण कार्यक्रम में उत्साहपूर्वक भागीदार बनी। युवाओं ने भी तिरंगा लहराते हुए जयकारों के साथ घरों में पौधे पंहुचाए। कृषि मंत्री औम प्रकाश धनखड़ ने ईस्माइलपुर के शिव मंदिर प्रांगण में अमरूद का पौधा रोपित कर एक पेड़ शहीदों के नाम कार्यक्रम का शुभारंभ किया। पौधों के साथ एक पत्रक भी दिया गया जिस पर वर्णित है कि धारा 370 हटने पर हम याद करें सारे शहीदों को , जिस कश्मीर को खून से सींचा -वो कश्मीर हमारा है, सारा का सारा हमारा है।

धनखड़ ने कहा कि पीएम मोदी व गृह मंत्री कश्मीर कहते हैं उसमें पीओके और अक्साई चीन भी कश्मीर का हिस्सा शामिल होता है। कृषि मंत्री ने किया पौधा पोषण का आहवान । कृषि मंत्री धनखड़ ने ग्रामीणों को घर-घर जाकर पौधे देते हुए आहवान किया कि यह शहीदों की याद को चिर स्थायी बनाने के लिए है।  इनका पोषण सही तरीके से करें ताकि एक पेड़ शहीदों के नाम कार्यक्रम में रोपित हुए पौधे वीरों की शहादत की महक कण-कण तक पंहुच सके।  बादली जोन में 31 गांवों में 21 हजार पौधे , माछरौली जोन के 11 गांवों छह हजार , भटेड़ा जोन के सात गांवों में  7 हजार 500 पौधे , कासनी जोन के 23 गांवों में 16 हजार 500 पौधे तथा झज्जर जोन के 22 गंावों में 17 हजार पौधे वितरित किए गए।

ग्रामीण पूरे जोश के साथ सुबह से ही अपने-अपने ट्रैक्टर-ट्रॉली, साईकिल, मोटरसाईकिल, रिक्सा आदि लेकर पौध वितरण के कार्य में जुट गए। गांवों में सुबह से ही महोत्सव जैसा माहौल रहा। कृषि मंत्री धनखड़ ने पौध वितरण कार्यक्रम में भागीदर बनी सभी टीमों को बधाई दी