पकड़ा गया वीरेंद्र मान "काले" का हत्यारा, गाँव का ही नजदीकी कालू हुआ गिरफ्तार

आम आदमी पार्टी के नेता और कई वारदातों में शामिल रहे वीरेंद्र मान उर्फ काले की हत्या के मामले में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया युवक मृतक के गांव का ही निवासी है। गिरफ्तार कालू के चाचा बबलू के कत्ल के जुर्म में काले के एक सहयोगी को पुलिस ने पकड़ा था। काले की हत्या उसी कत्ल का बदला बताया गया है। हत्यारोपी के अन्य साथियों की तलाश की जा रही है।

पकड़ा गया वीरेंद्र मान

बाहरी उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त गौरव शर्मा ने बताया कि आठ सितंबर को सुबह भीड़ भरी सड़क पर नरेला में लामपुर तिराहे पर हथियारबंद बदमाशों ने खेड़ा खुर्द निवासी वीरेंद्र मान उर्फ काले उम्र सैंतालीस साल को गोलियों से भून डाला था। सरेराह हुई हत्या की इस वारदात में जांच के लिए कई टीमों का गठन किया गया था। हत्यारों की तलाश में जुटी जिले के स्पेशल स्टाफ की इंस्पेक्टर अजय शर्मा के नेतृत्व वाली एसआई कमलेश, एएसआई ओमवीर, हवलदार जोगिंद्र, सिपाही दिनेश तथा हनुमान और रविकांत की टीम ने एक सूचना के आधार पर वारदात में शामिल खतरनाक अपराधी पच्चीस वर्षीय कपिल मान उर्फ कालू निवासी खेड़ा खुर्द को गांव के पास से गुजर रही नहर के पास से धर दबोचा।

Image Source- Google
उपायुक्त ने बताया कि वारदात वाले दिन कपिल मान उर्फ कालू अपने साथियों के साथ वीरेंद्र मान उर्फ काले का पीछा कर रहा था। नरेला में लामपुर तिराहे के पास यातायात जाम होने की वजह से वीरेंद्र मान की कार रुक सी गई थी तभी पीछे से आए बदमाशों ने पीछे से आकर हमला बोल दिया। हमलावरों को देखते ही कार का चालक दिनेश उतरकर भाग गया। हमलावरों ने संभलने का मौका दिए बगैर वीरेंद्र मान को गोलियों से छलनी कर दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारे हथियार लहराते और फायरिंग करते हुए हरियाणा की तरफ फरार हो गए।
Image Source- Google
सवा लाख का ईनामी है पकड़ा गया बदमाश
पुलिस के मुताबिक पकड़ा गया बदमाश आठ गंभीर मामलों में शामिल रहा है तथा उसकी गिरफ्तारी पर सवा लाख का ईनाम घोषित है। उस हत्या, हत्या के प्रयास तथा धमकाने और लूटपाट के मामले दर्ज है। कपिल मान उर्फ कालू की अदावत वीरेंद्र मान उर्फ काले के साथ उस समय शुरू हुई जब बबलू खेड़ा का अशोक विहार में मर्डर कर दिया गया। बबलू खेड़ा का संबंध बवाना के राजेश गिरोह के साथ है जिसे नीरज बवानिया का प्रतिद्वंद्वी बताया जाता है। बबलू खेड़ा की हत्या के मामले में पुलिस ने गांव के ही वीरेंद्र मान उर्फ काले के एक सहयोगी को पकड़ा था।

Image Source- Google

यह हत्या नीरज बवानिया के इशारे पर हुई बताई गई। बबलू की हत्या के बाद उसके भतीजे कपिल मान उर्फ काले की वीरेंद्र मान हत्याकांड में गिरफ्तारी दिल्ली देहात में एक और खूनी जंग का आगाज मानी जा रही है।