दिल्ली के मंगोलपुरी में बलात्कार पीड़ितों की सहायता के लिए की गई विशेष पहल .........

दिल्ली के मंगोल पूरी में खोला गया हैं. अपने आप में ख़ास इस सेंटर में उपचार की तमाम सुविधाएं हैं।  इस पहल से पीड़ितों को अलग अलग पुलिस स्टेशनों के चक्कर काटने की जरूरत नहीं पड़ेगी साथ ही अस्पताल के अलग अलग विभागों के चक्कर लगाने से भी मुक्ति मिलेगी।  डायरेक्ट डीएम के देखरेख में रेप पीड़िता के असहनीय दर्द और दुःख को कम करने की ये छोटी सी पहल उन पीड़ितों के लिए कहीं न कहीं इलाज और इंसाफ को सुनिश्चित करती  नजर आती है।  

दिल्ली के मंगोलपुरी में बलात्कार पीड़ितों की सहायता के लिए की गई विशेष पहल .........

 उत्तरी दिल्ली के मंगोलपुरी में बलात्कार पीड़ितों की सहायता के लिए एक विशेष पहल की गई हैं। डीएम कंझावला के निगरानी में मंगोलपुरी में सखी 1 स्टॉप सेंटर खोला गया जहाँ रेप पीड़ितों को तत्काल सहायता मुहैया करवाई जायेगी।  यह अपने आप में दिल्ली का पहला सेंटर होगा जहाँ पीड़िताओं को पुलिस जांच और अस्पतालों के चक्कर लगाने से निजात मिलेगा।  दिल्ली में आये दिन बलात्कार की सुर्खियां अखबारों का फ्रंट पेज हुआ करती हैं। दिल्ली तोरेप कैपिटल तक कहा जाता हैं. बलात्कार पीड़ितों को इन्साफ और इलाज के लिए असहाय पीड़ा के साथ दर दर की ठोकरें ना खानी पड़े इसको ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार द्वारा मंगोलपुरी में डीएम कंझावला के देख रेख में सखी 1 स्टॉप सेंटर खोला गया। दिल्ली में यह अपने आप में पहला सेंटर हैं।  बलात्कार पीड़ितों को इससे काफी मदद मिलने की उम्मीद हैं।   दिल्ली में यह सेंटर उत्तरी दिल्ली के मंगोल पूरी में खोला गया हैं. अपने आप में ख़ास इस सेंटर में उपचार की तमाम सुविधाएं हैं।  इस पहल से पीड़ितों को अलग अलग पुलिस स्टेशनों के चक्कर काटने की जरूरत नहीं पड़ेगी साथ ही अस्पताल के अलग अलग विभागों के चक्कर लगाने से भी मुक्ति मिलेगी।  डायरेक्ट डीएम के देखरेख में रेप पीड़िता के असहनीय दर्द और दुःख को कम करने की ये छोटी सी पहल उन पीड़ितों के लिए कहीं न कहीं इलाज और इंसाफ को सुनिश्चित करती  नजर आती है।