लॉक डाउन और धारा 144 का उल्लंघन करने पर पुलिस ने की कार्रवाई

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने बहादुरगढ़ में दो और युवकों को घरों में क्वॉरेंटाइन किया है। जिनमें से एक बहादुरगढ़ के सेक्टर 6 का रहने वाला है। वही दूसरा सेक्टर 2 का रहने वाला है। दोनों युवक विदेश यात्रा करके अपने घर लौटे हैं। हालांकि दोनों युवकों में कोरोनावायरस के लक्षण फिलहाल दिखाई नहीं दे रहे हैं। फिर भी स्वास्थ्य विभाग ने सावधानी बरतते हुए युवकों को 14 दिन तक घरों में क्वॉरेंटाइन किया है। पूरे झज्जर जिले की बात करें तो अब तक 97 लोगों को स्वास्थ्य विभाग की ओर से क्वॉरेंटाइन किया गया है।

लॉक डाउन और धारा 144 का उल्लंघन करने पर पुलिस ने की कार्रवाई

बहादुरगढ़ (योगिनेर सैनी) || कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने बहादुरगढ़ में दो और युवकों को घरों में क्वॉरेंटाइन किया है। जिनमें से एक बहादुरगढ़ के सेक्टर 6 का रहने वाला है। वही दूसरा सेक्टर 2 का रहने वाला है। दोनों युवक विदेश यात्रा करके अपने घर लौटे हैं। हालांकि दोनों युवकों में कोरोनावायरस के लक्षण फिलहाल दिखाई नहीं दे रहे हैं। फिर भी स्वास्थ्य विभाग ने सावधानी बरतते हुए युवकों को 14 दिन तक घरों में क्वॉरेंटाइन किया है। पूरे झज्जर जिले की बात करें तो अब तक 97  लोगों को स्वास्थ्य विभाग की ओर से क्वॉरेंटाइन  किया गया है। यह सभी लोग कोरोना संक्रमित देशों से यात्रा से अपने घर लौटे हैं । हालांकि झज्जर जिले में अब तक कोई भी  कोरोना वायरस का पॉजिटिव केस नहीं मिला है।

झज्जर जिला प्रशासन लगातार लोक डाउन को सफल बनाने के लिए सख्ती से कार्रवाई करने में जुड़ा हुआ है। बहादुरगढ़ में लोक डाउन और धारा 144 का उल्लंघन करने पर पुलिस ने तीन अलग-अलग मामलों में एफआइआर की है। पहली एफ आई आर बहादुरगढ़ के आसौदा थाने में हुई है जहां रोहद बाईपास के पास एक फैक्ट्री मालिक और उसके मैनेजर पर मामला दर्ज किया गया है। क्योंकि यह लोग भारी संख्या में कर्मचारियों से फैक्ट्री में लोक डाउन के बावजूद काम करवा रहे थे और कर्मचारियों को ना तो मास्क दिए गए थे और ना ही उन्हें सैनिटाइजर उपलब्ध करवाया गया था। अन्य दो 2 एफ आई आर बहादुरगढ़ के शहर थाने में दर्ज की गई है। जहां आधुनिक औद्योगिक क्षेत्र के प्लॉट नंबर 443 में कृष्णा इंटरप्राइजेज नाम से फैक्ट्री चल रही थी। लोक डाउन के बावजूद फैक्ट्री चलाने के कारण फैक्ट्री के मालिक और सुपरवाइजर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इतना ही नहीं शहर में अवैध रूप से सवारियां ढोने वाले एक ऑटो मालिक के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है। सभी मामलों में आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

बहादुरगढ़ के लोगों को आज सुबह सवेरे अखबार भी पढ़ने को नहीं मिला। क्योंकि घर घर अखबार पहुंचने वाले हैकरों ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए अखबार नहीं बांटने का फैसला लिया है। हालाकी लोग अखबार नहीं मिलने के कारण कुछ परेशान भी हैं। क्योंकि अखबार के माध्यम से लोगों को सरकार और प्रशासन द्वारा जारी की गई जानकारियां सही तत्थयों के साथ मिल जाती है। ऐसे में अब इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ही उन तक सही सूचनाएं पहुंचने का एक मात्र साधन बचा है। सोशल मीडिया द्वारा भ्रमक सूचनाएं फैलने का खतरा भी लगातार बना हुआ है। हालांकि जिला प्रशासन सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर लगातार नजर रखे हुए है।