हरियाणा शिक्षा विभाग के दावों की खुली पोल, पेपर हो रहे सोशल मीडिया पर वायरल

हरियाणा में बोर्ड की परीक्षाएं चल रही है , हर दिन पेपर शुरू होने के 10 मिनट के बाद ही पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो जाता है । कही न कही शिक्षा विभाग के दावों की पोल खोल रही है । ऐसे में शिक्षा मंत्री का कहना है कि इस मामले को काफी सख्ती से ले रहे है । निषित तोर पर जो भी कर्मचारी या अधिकारी इसमे शामिल होगा उसपर सख्त कार्यवाही की जाएगी ।

हरियाणा शिक्षा विभाग के दावों की खुली पोल, पेपर हो रहे सोशल मीडिया पर वायरल

यमुनानगर (सुमित ओबेरॉय) || हरियाणा में बोर्ड की परीक्षाएं चल रही है ,  हर दिन पेपर शुरू होने के 10 मिनट के बाद ही पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो जाता है । कही न कही शिक्षा विभाग के दावों की पोल खोल रही है । ऐसे में शिक्षा मंत्री का कहना है कि इस मामले को काफी सख्ती से ले रहे है । निषित तोर पर जो भी कर्मचारी या अधिकारी इसमे शामिल होगा उसपर सख्त कार्यवाही की जाएगी । वही उन्होंने बेमौसम बरसात ओर ओलावृष्टि से किसानों को हो रहे नुकसान पर भी चिंता जताई है और जल्द गिरदावरी करने की बात कही है । वही उन्होंने महम विधायक बलराज कुंडू पर भी निशाना साधा ।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि एक बहुत बड़ी समस्या हमारे सामने आई है जो शिक्षा विभाग के सेक्टरी हैं उनसे मेरी बात भी हुई है। हम इस पूरे मामले को काफी  सख्ती से ले रहे है । लेकिन जिस तरह से कई जगहों पर सोशल मीडिया के माध्यम से पेपर बाहर आ रहे हैं इसका पता भी जरूर लगा लेंगे क्योंकि इसमें पता लग जाता है कि कहां से यह आया और कहां पर गया। इस सारे डाटा की जानकारी मिलेगी और निश्चित तौर पर इस पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी और कोई भी होगा उसमें उसको बख्शा नहीं जाएगा चाहे कोई भी हमारा अधिकारी या कर्मचारी हो। 

वही किसानों पर पड़ रही बेमौसम ओलावृष्टि और बारिश की मार से जहां किसान परेशान है ओर स्पेशल गिरदावरी की मांग कर रहे है इस पर शिक्षा मंत्री गोपाल गुर्जर का कहना है कि अगर कहीं पर भी किसी भी प्रकार का नुकसान होगा तो जल्द से जल्द उसकी गिरदावरी करवाई जाएगी । किसान को उसका मुआवजा जरूर देंगे उसकी मदद करेंगे ,  क्योंकि पहले भी सरकार ने आज तक जितना भी किसानों को नुकसान हुआ है पिछली सरकारों के मुकाबले में बहुत ज्यादा मदद किसान की की है। और यह हमारी जिम्मेदारी बनती है हम निश्चित तौर पर जरूर गिरदावरी करवाएंगे ।

मेहम विधायक बलराज कुंडू 22 तारिक को सरकार के विरूद्ध एक रैली करने जा रहे है  इस पर शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुज्जर ने कहा की इंडिपेंडेंट हैं उन्होंने पहले हमें समर्थन दिया था लेकिन बाद में उन्होंने अपना समर्थन वापस ले लिया जिस बात पर उन्होंने समर्थन वापस लिया उस बात का कोई औचित्य नहीं था जो सिरे के रेट की बात वह कह रहे हैं उन्होंने कहा कि अगर सिरे का रेट पंजाब में उत्तर प्रदेश में और हरियाणा में भी अगर एक ही रेट है तो उसमें भ्रष्टाचार कैसे हो सकता है अगर कोई आदमी इस प्रकार की जिद करे इसकी इंक्वायरी करवाओ तो संभव नहीं है उसमें कुछ ना कुछ तथ्य जरूर नजर आना चाहिए और लगना चाहिए कि इसमें कुछ गड़बड़ है लेकिन जब ऐसा कुछ है ही नहीं और वही वर्तमान सरकार बिना डिमांड के ही इंक्वायरी करवाई है वही 22 तारीख को होने वाली रैली को लेकर शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि हर आदमी की अपनी राजनीति है वह स्वतंत्र है वह किसी बेबी कुछ भी आरोप लगाने का वह उसकी अपनी राजनीति है हम किसी को रोक नहीं सकते रैली करने से लेकिन जिस बात को लेकर वह रैली कर रहे हैं उसमें कोई दम नहीं है कोई औचित्य नहीं है

शिक्षा मंत्री ने कहा कि अगर हमारे पास इस प्रकार की कोई जानकारी आती है कि जो टीचर है वो टाइम पर नहीं पहुंचते या नहीं आते या वह शिक्षा पर कोई ध्यान नहीं दे रहे तो अगर इस प्रकार की शिकायत आएगी तो निश्चित तौर पर कार्रवाई करेंगे लेकिन सरकार और विभाग यह सोचना है कि शिक्षा बहुत जिम्मेदारी का पद है उसको स्वयं ही इस जिम्मेदारी को समझना चाहिए और उसको उसी प्रकार का व्यवहार और जिम्मेदारी को समझना चाहिए  , ठीक टाइम पर स्कूल में जाना चाहिए। बच्चों का जो भविष्य है वह भी उनके हाथ में हैं तो राष्ट्र निर्माण के कार्य में उनका भी एक अच्छा योगदान है होता है । वही आपको बता दे कि पिछले कई दिनो शिक्षा मंत्री अपनी विधानसभा में धन्यवादी दौरे पर है और इसी दौरान उन्होंने पिछले दिनों एक स्कूल में औचक निरीक्षण किया था जिसमे 3 अध्यापको के खिलाफ कार्यवाही भी की गई थी