सढौरा, यमुनानगर में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने किया जनसभा को संबोधित

यमुनानगर की सढोरा विधानसभा के भगवान पुर गांव में ऐतिहासिक लोहगढ़ साहिब गुरुद्वारे में आज डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला पहुंचे।लोहगढ़ साहिब को सिख राज की पहली राजधानी माना जाता है।दुष्यंत चौटाला ने गुरुद्वारे में मथा टेक आशीर्वाद प्राप्त किया।वही दुष्यंत चौटाला में मीडिया से बात करते हुए विपक्ष को आड़े हाथों लिया।वही एक्साइज पॉलिसी से लेकर दादुपुर नलवी और माइनिंग के मुद्दे और दिल्ली हिंसा पर बात की।दुष्यंत चौटाला ने बलराज कुंडू के समर्थन वापिस लेने के सवाल पर कहा कि में सिर्फ इतना कहूंगा कि उन्हें दुबारा सोचना चाहिए।

सढौरा, यमुनानगर में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने किया जनसभा को संबोधित

यमुनानगर (सुमित ओबेरॉय) || यमुनानगर की सढोरा विधानसभा के भगवान पुर गांव में ऐतिहासिक लोहगढ़ साहिब गुरुद्वारे में आज डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला पहुंचे।लोहगढ़ साहिब को सिख राज की पहली राजधानी माना जाता है।दुष्यंत चौटाला ने गुरुद्वारे में मथा टेक आशीर्वाद प्राप्त किया।वही दुष्यंत चौटाला में मीडिया से बात करते हुए विपक्ष को आड़े हाथों लिया।वही एक्साइज पॉलिसी से लेकर दादुपुर नलवी और माइनिंग के मुद्दे और दिल्ली हिंसा पर बात की।दुष्यंत चौटाला ने बलराज कुंडू के समर्थन वापिस लेने के सवाल पर कहा कि में सिर्फ इतना कहूंगा कि उन्हें दुबारा सोचना चाहिए।

विपक्ष ने बजट को दिशाहीन करार दिया है और विपक्ष लगातार इस बजट पर सवाल उठा रहा है इस सवाल का जवाब देते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जहां बजट की बात है तो दशक के अंदर पहला ऐसा बजट है जिसने हर वर्ग को समझा है ।प्रत्येक वर्ग को कैसा फायदा मिले ।उसके बारे में एक एक यूनिट से विचार करके मुख्यमंत्री ने बजट की पेशकश करी है। पहली बार होगा आंगनवाड़ियों को भी प्ले स्कूल में विकसित किया जाएगा ।पहली बार होगा कि गांव के स्कूलों के अंदर भी पहली कक्षा से अंग्रेजी सिखाई जाएगी। मोबाइल डिस्पेंसरी की जो सुविधा लाई जाएगी अब आपको एमबीबीएस डॉक्टरों से मिलने के लिए अस्पताल जाने की जरूरत नही पड़ेगी। बल्कि मोबाइल डिस्पेंसरी के माध्यम से डॉक्टर गांव में आकर लोगों का इलाज करने का काम करेंगे। बजट के अंदर चाहे वो डैम के निर्माण की बात हो चाहे किसान को ऐतिहासिक तौर पर 26 परसेंट की ग्रामीण अंचल को 26 परसेंट की वृद्धि देना अपने आप में स्थापित कर देता है। आज हरियाणा की रीड की हड्डी ग्रामीण  हरियाणा है उसको मजबूत करने का काम किया है ।किसान को नौजवान को आज एक नया उदय दिया है ।वही पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा का कहना है कि सरकार ने प्रदेश को और कर्जदार बना दिया है ।लगातार प्रदेश पर कर्जा बढ़ रहा है ।इस सवाल  का जवाब देते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि विपक्ष इतने अच्छे आंकड़े बता सकता है तो यह भी जानता है कि जब नियत काम की हो पैसा तो सरकार अपने आप लाना जानती है आज जो लक्ष्य हम लेकर चल रहे हैं वो यही है प्रदेश के अंदर जहां मेडिकल व्यवस्था में सुधार है मैं मानता हूं बहुत अच्छा कदम है हरियाणा में एमबीबीएस की सीट पर जो जो भी बच्चा पड़ेगा सब्सिडाइज रेट पर उसको 2 साल हमारे यहां सेवा करनी पड़ेगी नए डॉक्टर से अपने आप ग्रामीण अंचल में आकर सेवा करेंगे अस्पतालों का सुधार होगा । आज जो करचेस हैं शहरों में तो प्ले स्कूल में कन्वर्ट हो रहे है ।वही आज हमारी आंगनवाड़ियों को डिजिटलाइज करना उसके अंदर प्ले स्कूल जैसी व्यवस्था करना है यह तो सरकार का दूरदर्शी विजन दिखाता है। मैं यह मानता हूं प्रत्येक विभाग को बड़े अच्छे तरीके से समझते हुए मुख्यमंत्री ने बजट का आवंटन किया है।

दुष्यंत चौटाला ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष तो बारी बारी चार मुद्दों पर अटका हुआ है एक्साइज पॉलिसी पर उनको जवाब मिल चुका है उनका बारी बारी आरोप धान घोटाला है। बल्कि सरकार ने तो रिकवरी भी 50 परसेंट कर ली है जो शॉर्टेज आई थी ।आज इसको विपक्ष दिशाहीन बजट कहता है ।मैं मानता हूं इससे अच्छा बजट  आज तक आया नहीं है ।वही दादूपुर नलवी के बारे में जब सवाल किया गया कि आप जब विपक्ष में थे तो दादूपुर नलवी के बारे में बात करते थे लेकिन अब तो इसको बंद किया गया है ।इस पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि 4 बार मेरी मुलाकात भी कमेटी के सदस्यों से 1 महीने के अंदर हुई है ।मैंने उनसे आग्रह किया जो डी नोटिफिकेशन पिछली सरकार ने की थी उसको री नोटिफाई तो किया नहीं जा सकता। मगर उसके अंदर कोई ना कोई तरीका बनाया जा सकता है ताकि इस प्रोजेक्ट को जो शाहबाद तक रिचार्ज चैनल के तौर पर काम करता था। उसे दोबारा जिंदा किया जाए। चर्चा निरंतर चल रही है उम्मीद करते हैं कि आने वाले भविष्य में कुछ ना कुछ सकारात्मक परिणाम मिलेंगे।विपक्ष द्वारा बार-बार आबकारी नीति पर सवाल उठाए जा रहे हैं और कहा जा रहा है कि इस पॉलिसी से घर-घर में शराब बेची जाएगी। इस पर दुष्यंत चौटाला ने विपक्ष को करारा जवाब देते हुए कहा कि इस पर तो हम कानून लाने जा रहे हैं बिना लाइसेंस के अगर कोई अवैध शराब का ठेका बेचेगा 6 महीने गैर जमानती अपराध के रूप में माना जाएगा ।जब आपके पास शराब पड़ी है और आपके पास लाइसेंस नहीं होगा। अपने आप अवैध माना जाएगा। हम तो इस चीज को जो कांग्रेस की सरकार ने घर-घर पहुंचाने के लाइसेंस की प्रथा शुरू की थी ।उसको स्ट्रेन्डेन्ट भी कर रहे हैं। और उसको महंगा भी कर रहे हैं प्रदेश को जहां राजस्व भी आएगा ।वही वही प्रदेश में गैरकानूनी तरीके से हो रहे काम पूर्ण रूप से बंद होंगे।

वहीं दिल्ली हिंसा पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बेहद दुखद घटना हुई है इसको राजनीतिक ना बोलते और इस पर राजनीति न करते  हुए हमारे देश की एकता अखंडता को मजबूत करना पड़ेगा ।आज भी हम देखते हैं वहां पर लोग अलग-अलग क्षेत्र से गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के भी सदस्य हैं और लोग भी खाना लेकर जा रहे हैं ।ताकि वहां पर दोबारा सामंजस्य स्थापित हो दुबारा पहले जैसे हालात पैदा हो।हम सबको मिलकर ऐसी चीजों को रोकना पड़ेगा तभी देश और प्रदेश आगे बढेगा।विधायक बलराज कुंडू के समर्थन वापसी पर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उनकी खुद की सोच हो सकती है कारण क्या रहे हैं ।मुख्यमंत्री ने उनके सवालों का जवाब देने का भी काम किया है ।मैं तो इतना ही बोलूंगा उनको दोबारा सोचना चाहिए।
वही जब उनसे सवाल  किया गया कि जब आप सत्ता में नहीं थे तब आप माइनिंग को लेकर बहुत बड़े सवाल किया करते थे और आज आप सत्ता में है इस पर क्या किया जा रहा है। इस पर दुष्यंत चौटाला ने जवाब देते हुए कहा कि हमारी सरकार ने ई रवान्ना हमने इशू किया है जिससे कोई भी ट्रक अगर माइनिंग का मेटेरियल लेकर जाता है तो उसको जीपीएस से हम ट्रेस भी करते हैं ।उसकी लोडिंग भी मॉनिटर करते हैं। और आपको एक चीज बड़ी अच्छी बताना चाहता हूं 800 से ज्यादा वाहन आज भी सरकार ने इंपाउंड कर रखे हैं प्रदेश के अंदर ।और ऐसा पहली बार हुआ है माइनिंग को इतने ध्यान से जो मंत्री हैं वह मॉनिटर कर रहे हैं मैं अभी आ रहा था तो देखते हुए आया कि अधिकतम कलेसर यहां पर बंद पड़े हैं। अगर यहां इल्लीगल काम चल रहा होता तो क्या यह क्रेशर बंद होते क्या। इस समय जहां भी हमें शिकायत आती है कि अवैध माइनिंग हो रही है माइनिंग मंत्री खुद जाकर और उनका विभाग भी जाकर कार्रवाई कर रहा है ।