दिल्ली : बवाना समेत देश के कई हिस्सों में नागरिकता संसोधन बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन  ...........

जामिआ से शुरू हुई थी जहाँ पुलिस की बर्बरता और प्रदर्शनकारियों की कई हिंसक तस्वीरें सामने आई थी।  अचानक हुए आंदोलन को ना संभाल पाने के लिए पुलिस की आलोचना भी हुई थी जिसको लेकर आज देश भर में होने वाले पूर्व नियोजित बंद और प्रदर्शन  को काबू में रखने के लिए तमाम जरूरी कदम उठाये गए हैं. जिसमे बवाना में दिल्ली पुलिस का बनाया गया ये राजीव गाँधी स्टेडियम जेल भी शामिल हैं।

दिल्ली : बवाना समेत देश के कई हिस्सों में नागरिकता संसोधन बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन  ...........

 दिल्ली समेत देश के अलग अलग हिस्सों में नागरिकता संसोधन बिल को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी हैं।  दिल्ली में इसका खासा असर देखने को मिल रहा है जिसमे जगह जगह से लोग विरोध करने सड़को पर उतरे हैं और गिरफ्तारियां दे रहे हैं।  ऐसे में इतने बड़े स्तर पर हो रही गिरफ्तारियों के लिए  दिल्ली के बवाना के राजीव गाँधी स्टेडियम को तात्कालिक जेल बनाया गया है, जहाँ उन्हें रखा जा रहा है ताकि किसी भी तरह की कोई अव्यवस्था ना फैले।

  नागरिकता संसोधन बिल के सवाल और बवाल दोनों ही ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहे। दिल्ली समेत पुरे देश में जगह जगह विरोध प्रदर्शन जारी है।  ऐसे में प्रशासन और सरकार दोनों ने कोई भी कोताही ना बरतने की ठान रखी हैं।  जम कर गिरफ्तारियां हो रही है और और जेल भरे जा रहे हैं। विरोध के स्तर और गिरफ्तारीयो की संख्या के स्तर को देखते हुए दिल्ली के बवाना में एक टेम्पररी जेल यानी एक तात्कालिक जेल बनाया गया।  बवाना के राजीव गाँधी स्टेडियम को पुलिस छावनी और जेल में बदल दिया गया। पुलिस और कई सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए।  दिल्ली में सबसे पहले विरोध की आग  जामिआ से शुरू हुई थी जहाँ पुलिस की बर्बरता और प्रदर्शनकारियों की कई हिंसक तस्वीरें सामने आई थी।  अचानक हुए आंदोलन को ना संभाल पाने के लिए पुलिस की आलोचना भी हुई थी जिसको लेकर आज देश भर में होने वाले पूर्व नियोजित बंद और प्रदर्शन  को काबू में रखने के लिए तमाम जरूरी कदम उठाये गए हैं. जिसमे बवाना में दिल्ली पुलिस का बनाया गया ये राजीव गाँधी स्टेडियम जेल भी शामिल हैं।