दिल्ली : नरेला होलम्बी कलां मेट्रो विहार में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने छात्रा के साथ की छेड़छाड़ ....

मेट्रो विहार फ़ेस-2, मदर डेयरी के पास की घटना। ..... इकट्ठा हुए सैंकड़ों स्थानीय लोग, युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया , स्थानीय लोग कर रहे हैं विरोध प्रदर्शन, भाजपा की प्रचार गाड़ी पर सवार था मनचला , फिलहाल स्थानीय लोग परिजन आरोपियों को गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. बड़ा सवाल ये हैं कि क्या अपनी रैली में ऐसे मनचलो को लाकर भाजपा बताएगी लोगों को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का मतलब. जाहिर सी बात हैं चुनाव हैं और ऐसे कर्मो का खामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है।

दिल्ली : नरेला होलम्बी कलां मेट्रो विहार में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने छात्रा के साथ की छेड़छाड़ ....

बाहरी दिल्ली के नरेला विधानसभा में होलम्बी कलां मेट्रोविहार में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने की छेड़छाड़ , कैंपेन के दौरान बी ए फर्स्ट ईयर की छात्रा से छेड़छाड़ का मामला आया सामने, परिजनों ने की शिकायत, आरोपी कार्यकर्ता गाडी छोड़ कर फरार..... लोगों में दिख रहा है गुस्सा , प्रसाशन तैनात, सवाल ये है कि  क्या यही है बीजेपी का बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का सपना...... नरेला विधानसभा के होलंबी कलां मेट्रो विहार में आज बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कैंपेन के दौरान वहां से गुजर रही बीए फर्स्ट ईयर  की छात्रा के साथ छेड़छाड़ की, छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तुरंत अपने परिजनों को सूचना दी तो वहां पर आसपास लोग इकट्ठे होते चले गए जिन्होंने पुलिस को सूचना दी और पुलिस मौके पर पहुंच गई छेड़छाड़ करने वाले बीजेपी कार्यकर्ता गाड़ी छोड़कर मौके से फरार हो गए.... वहां मौजूद महिलाओं ने और अन्य प्रत्यक्षदर्शियों ने प्रशासन पर आरोप लगाए है की प्रशासन ने उन्हें भगाया है। फिलहाल मौके पर लोगों की भीग लग गई है और लोगों में गुस्सा है। स्थिति ना बिगड़े इसलिए पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया है।   sho सहब ने जल्दी ही उनकी गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। ...... मेट्रो विहार फ़ेस-2, मदर डेयरी के पास की घटना। .....  इकट्ठा हुए सैंकड़ों स्थानीय लोग, युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया , स्थानीय लोग कर रहे हैं विरोध प्रदर्शन, भाजपा की प्रचार गाड़ी पर सवार था मनचला , फिलहाल स्थानीय लोग परिजन आरोपियों को गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. बड़ा सवाल ये हैं कि क्या अपनी रैली में ऐसे मनचलो को लाकर भाजपा बताएगी लोगों को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का मतलब. जाहिर सी बात हैं  चुनाव हैं और ऐसे कर्मो का खामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है।