Bawanikheda : बड़सी गाँव की बणी में मिला 22 वर्षिय युवक का शव  ...

वहीं मामले की जांच कर रहे बवानीखेङा थाना प्रभारी श्रीभगवान ने बताया कि बङसी गांव में प्रमीत नामक युवक का शव पेङ पर एक फंदे से लटाक मिला है। इस मामले में मृतक के पिता ने कुछ युवकों पर हत्या के आरोप लगाए हैं। उन्होने बताया कि मृतक के शव का बोर्ड की निगरानी में पोस्टमार्टम करवाया जाएगा और जांच के बाद सारा खुलासा हो पाएगा।

Bawanikheda : बड़सी गाँव की बणी में मिला 22 वर्षिय युवक का शव  ...

बवानीखेङा क्षेत्र के बङसी गांव में एक युवक की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है। मृतक युवक का शव गांव की बणी में एक पेङ से फांसी के फंदे पर लटकता हुआ मिला है। परिजनों ने गांव के ही कुछ युवकों पर हत्या कर शव फांसी पर लटकाने के गंभीर आरोप लगाए हैं। मृतक युवक की महज 10 माह पहले ही शादि हुई थी। फिलहाल बवानीखेङा पुलिस ने मामला दर्ज कर आगामी कार्यवाई शुर कर दी है।बताया जाता है कि 22-23 वर्षिय प्रमीत नामक युवक अपने पिता के साथ खेतीबाङी का काम करता था। प्रमीत की महज 10 माह पहले ही शादि हुई थी। बीती देर रात प्रमीत का शव गांव की बणी में एक पेङ से फांसी के फंदे पर लटका मिला। ये सूचना गांव में आग की तरह फैली और सभी हैरान रह गए। सूचना पाकर बवानीखेङा थाना प्रभारी श्रीभगवान अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और शव को पोस्टमार्टम के लिए चौधरी बंसीलाल नागरिक अस्पताल पहुंचाया। मृतक के चचेरे भाई सुशील कुमार ने बताया कि प्रमीत की कल कुछ युवकों के साथ कहासुनी हुई थी। सचीन व नवीन प्रमीत को कल दो बार घर से बुला कर ले गए। उन्होने बताया कि विकास, राजेश, मनीष व राजेन्द्र ने कहासुनी के चलते ही प्रमीत को जान से मार कर खेतों की बणी में पेङ पर फांसी के फंदे पर लटका दिया। सुशील ने बताया कि विकास ने कल कहासुनी होने पर मेरे सामने प्रमीत को जान से मारने की धमकी भी दी थी।वहीं मामले की जांच कर रहे बवानीखेङा थाना प्रभारी श्रीभगवान ने बताया कि बङसी गांव में प्रमीत नामक युवक का शव पेङ पर एक फंदे से लटाक मिला है। इस मामले में मृतक के पिता ने कुछ युवकों पर हत्या के आरोप लगाए हैं। उन्होने बताया कि मृतक के शव का बोर्ड की निगरानी में पोस्टमार्टम करवाया जाएगा और जांच के बाद सारा खुलासा हो पाएगा। महज 10 माह पहले शादि और बीती रात संदिग्ध परिस्थितियों में प्रमीत की मौत अपने आप में एक बङा सवाल है। वहीं परिजनों द्वारा मामुली कहासुनी के चलते 4-5 युवकों पर हत्या कर शव को फांसी पर लटकाने के आरोप खुद पुलिस के लिए एक बङी पहेली बन गए हैं। अब जांच के बाद ही दूध का दूध और पानी का पानी हो पाएगा।