गुरुग्राम की सड़कों पर तमाशाई लोगो की भीड़ उड़ा रही 144 कि धज्जियां

देश भर में लगातार बढ़ रहे कोरोना के प्रकोप को देखते हुए गुरुग्राम में किये गए लॉक डाउन का सड़को पर असर देखने को नहीं मिल रहा है | हालंकि साइबर सिटी में इक्का -दुक्का ही दुकाने खुली है जहा से लोग रोजमर्रा की जरूरतों का सामान ख्रिं रहे है | बावजूद इसके सड़को पर लोगो का निकलना बदस्तूर जारी है , जिसके चलते गुरुग्राम पुलिस को मोर्चा संभालना पड़ रहा है |

गुरुग्राम की सड़कों पर तमाशाई लोगो की भीड़ उड़ा रही 144 कि धज्जियां

गुरुग्राम (संजय खन्ना) || देश भर में लगातार बढ़ रहे कोरोना के प्रकोप को देखते हुए गुरुग्राम में किये गए लॉक डाउन का सड़को पर असर देखने को नहीं मिल रहा है | हालंकि साइबर सिटी में इक्का -दुक्का ही दुकाने खुली है जहा से लोग रोजमर्रा की जरूरतों का सामान ख्रिं रहे है | बावजूद इसके सड़को पर लोगो का निकलना बदस्तूर जारी है , जिसके चलते गुरुग्राम पुलिस को मोर्चा संभालना पड़ रहा है  | 

साइबर सिटी में कोरोना के 8 मामले आने के बाद प्रदेश सरकार ने लॉक डाउन करने के आदेश पारित किये | जिसके चलते गुरुग्राम में लॉक डाउन करने की घोषणा कर दी गई। इतना ही नही महामारी को देखते हुए साइबर सिटी में धारा 144 भी लगा दी गई। जिससे एक साथ चार लोग इक्कठा न हो सके। बावजूद इसके लोग सड़कों पर नजर आ रहे है। इनमे से कुछ लोग तो रोजमर्रा की जरूरत का सामान ख़िरदने निकले है तो वही कुछ तमाशबीन है जो धारा 144 का सरेआम उलंघन कर रहे है। 

लॉक डाउन के चलते जहा हरियाणा रोडवेज की बसों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है वही कुछ प्राइवेट ऑपरेटर अपनी बसों को ले कर सड़को पर नजर आए। जिन्हें गुरुग्राम पुलिस ने रोक कर वापस भेज दिया। इतना ही नही पुलिस ने मोर्चा सम्भालते हुए सड़क को बेरिकेट लगा कर बन्द कर दिया और लोगो को समझा कर घर भेज दिया। 

एक और जहा कोरोना महामारी का रूप लेता जा रहा है तो वही लोगो की लापरवाही भी सामने आ रही है । ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यही है कि ऐसे कैसे जीत पाएंगे कोरोना से जंग।